lemongrass tea: रोजाना पिएं लेमनग्रास चाय, ताजगी भरे स्वाद के साथ सेहत को मिलेगा अद्भुत लाभ

lemongrass Tea: ज्यादातर घरों में सुबह की शुरुआत चाय के साथ ही होती है। मगर चाय को सेहत के लिए हानिकारक माना जाता है। ऐसे में हम आपको एक ऐसी चाय के बारे में बताने जा रहे हैं जो सेहत को अद्भुत लाभ पहुंचाने का काम करती है। इसे आप रोजाना पी कर सेहत से जुड़े कई तरह के फायदें उठा सकते हैं। इस चाय का नाम है लेमनग्रास चाय। इसमें कई तरह के  एंटीऑक्सिडेंट्स, एंटी-इंफ्लेमेंटरी और एंटी-सेप्टिक गुण मिलते हैं जिससे इसका सेवन आपकी बॉडी को डिटॉक्स करने में भी मदद करता है। आइए जानते हैं लेमनग्रास चाय किस तरह के फायदे पहुंचाती है और इसे बनाने का क्या तरीका है।

lemongras-tea

लेमन ग्रास टी के फायदे- lemon grass te

a benefits in hindi

पाचन शक्ति को मजबूत बनाती है लेमनग्रास- लेमनग्रास के रोजाना सेवन से पाचन तंत्र मजबूत बनता है। जिससे पेट से जुडी कई तरह की समस्याओं से निजात मिलती है। लेमनग्रास टी का उपयोग अपच, सूजन और पेट में ऐंठन जैसी समस्याओं को दूर भगाने का काम करती है। इसका सेवन करने से उल्टी, दस्त और पेट दर्द की दिक्कत में भी आराम लगता है।

कोलेस्ट्रॉल के लेवल को करती है कम- लेमनग्रास के सेवन से आप आप अपना कोलेस्ट्रॉल के लेवल को भी कम कर सकते है। दरअसल यह बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है। बैड कोलेस्ट्रॉल दिल की बीमारी होने की एक बड़ी वजह बनता है। इस वजह से बैड कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल में रखना बहुत जरूरी है।

किडनी को पहुंचाता है फायदा- लेमन ग्रास एक डिटॉक्स ड्रिंक का भी काम करता है। जिससे किडनी को भी कई तरह के फायदे पहुंचते हैं। यह शरीर से क्रिएटिनिन के स्तर को कम करने में भी मददगार साबित होता है। जिससे किडनी अपना काम सुचारु रूप से कर पाती है। साथ ही लेमनग्रास टी की मदद से किडनी की पथरी को भी ठीक किया जा सकता है। इसमें मौजूद विटामिन सी पथरी को पिघलाने में मदद करता है।

फैट बर्न करने में है मददगार- अगर आप मोटापे से परेशान हैं तो रोजाना लेमनग्रास का सेवन जरूर करें। दरअसल इसका सेवन मोटाबॉलिज्म को बूस्ट करता है जिससे बढ़ा हुआ वजन घटता है। वजन को तेजी से घटाने के लिए आप लेमनग्रास की चाय में शहद मिलाकर पी सकते हैं। स्वाद के लिए लेमनग्रास टी में नींबू का रस या सेंधा नमक भी मिलाया जा सकता है।

अनिद्रा की समस्या को करती है दूर- लेमनग्रास की चाय अनिद्रा की शिकायत को दूर करने में कारगर साबित होती है। दरअसल यह बेहतर रक्त प्रवाह को प्रोत्साहित करने में मदद करती है। जिससे गहरी नींद आती है। इसी वजह से यह एंग्जायटी और डिप्रेशन को भी दूर करने में मददगार साबित होती है।

कैंसर कोशिकाओं के लिए काल है लेमनग्रास- अमेरिकन नेशनल सेंटर ऑफ बायोलॉजी के जर्नल पब मेड की एक रिपोर्ट के अनुसार लेमनग्रास का अर्क कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने से रोकने में मदद करता है। वैज्ञानिकों ने कोलोन कैंसर से पीड़ित चूहों पर लेमनग्रास से जुड़ी रिसर्च की थी। जिसके उन्हें हैरान कर देने वाले रिजल्ट मिले।

तनाव और चिंता को भगाती है दूर- लेमनग्रास की टी के रेगुलर सेवन से आपको तनाव और चिंता को दूर करने में भी मदद मिलेगी। इसमें क्लोरोजेनिक एसिड और आइसोरिएंटिन जैसे कुछ ऐसे रसायन हैं जो शरीर की सूजन कम करके तनाव और चिंता को कम करने में मदद करते हैं। इसकी खुशबू भी मन को शांत रखने में फायदेमंद साबित होती है।

lemongrass-tea

ये भी पढ़े- Heart Attack Symptoms: हफ्ते में इस दिन बढ़ जाता है हार्ट अटैक का खतरा, इन लक्षणों पर दें ध्यान

लेमनग्रास चाय को कैसे बनाएं- How to make lemongrass tea

हर्बल लेमनग्रास टी बनाने की सामग्री

  • आधा कप बारीक कटी हुई लेमनग्रास
  • आधा नींबू
  • एक छोटा टुकड़ा अदरक का
  • एक इलायची
  • तुलसी के कुछ पत्ते
  • एक लौंग
  • एक चम्मच शहद

ये है बनाने का तरीका 

  • लेमनग्रास टी बनाने के लिए सबसे पहले एक बर्तन में पानी गर्म करने के लिए रखें।
  • इसके बाद जब यह पानी गर्म हो जाए तो इसमें लेमनग्रास के साथ तुलसी,अदरक,इलायची और लौंग मिला दें।
  • इन सभी मसालों का मिला हुआ यह पानी तब तक उबाले जब तक पानी का रंग न बदल जाए।
  • इसके बाद जब पानी का रंग हल्का सुनहरा हो जाए तो गैस बंद कर दें।
  • इस तरह आपकी हर्बल लेमनग्रास टी बनकर तैयार है।
  • इसे आप किसी कप में छानकर इसमें स्वाद के अनुसार शहद या गुड़ मिलाकर सर्व करें।

कई पोषक तत्वों से भरपूर है लेमन ग्रास

लेमनग्रास विटामिन ए, सी, फोलेट, फोलिक एसिड, मैग्‍नीशियम, जिंक, कॉपर, आयरन, पोटैशियम, फास्‍फोरस, कैल्‍शियम और मैगनीज़ जैसे पोषक तत्वों को खुद में समेटे है। साथ ही यह एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल, एंटी-कैंसर, एंटीडिप्रेसेंट जैसे गुणों का खजाना भी है। लेमन ग्रास में थायमिन, राइबोफ्लेविन, नियासिन पैंटोथैनिक एसिड भी होता है जो शरीर को कई तरह की बीमारियों से बचाता है। इन पोषक तत्वों की मौजूदगी की वजह से लेमनग्रास से बनी चाय को इम्युनिटी बूस्टर ड्रिंक भी कहा जाता है।

lemongrass-tea

लेमनग्रास के हैं कई नाम, विदेशों में भी होता है खूब इस्तेमाल 

लेमनग्रास को सिट्रोनेला, चाइना घास, भारतीय लेमन घास, मालाबार घास और कोचीन घास के नाम से भी पहचाना जाता है। श्रीलंका, बर्मा, वियतनाम, कंबोडिया, लाओस और थाईलैंड जैसे देशों में भी लेमनग्रास को खूब इस्तेमाल में लाया जाता है। लेमनग्रास का उपयोग दक्षिण एशियाई व्यंजनों में भरपूर मात्रा में किया जाता है। इसमें नींबू का स्वाद होने की वजह से इसका सबसे ज्यादा उपयोग चाय, मैरिनेड और करी बनाने के लिए किया जाता है। लेमनग्रास के डंठल को भी कई व्यंजनों के स्वाद को बढ़ाने के लिए किया  जाता है।

ये भी पढ़े- जीरे का पानी है शानदार डिटॉक्स ड्रिंक, वेट लॉस के लिए जरूर आजमाएं- Weight Loss Tips in Hindi

 

 

 

 

 

3 thoughts on “lemongrass tea: रोजाना पिएं लेमनग्रास चाय, ताजगी भरे स्वाद के साथ सेहत को मिलेगा अद्भुत लाभ”

Leave a Comment