Birthday Blue : क्या आपको भी जन्मदिन पर खुशी की जगह घेर लेती है उदासी, कहीं बर्थडे ब्लू का शिकार तो नहीं हैं आप?

बर्थडे वाला दिन हर किसी के लिए बेहद खास होता है। इसी वजह से हर कोई इस दिन कुछ ऐसा करने की सोचता है जिससे यह दिन यादगार बन जाएं। मगर बहुत से लोग ऐसे भी होते हैं जो इस खुशी के दिन भी एक अजीब सी बेचैनी और उदासी को महसूस करते हैं। यहां तक ऐसे लोगों को जब कोई बर्थडे विश करता है तो भी ये घबराहट का अनुभव करते हैं। दरअसल यह एक मानसिक अवसाद की अवस्था है, जिसे बर्थडे ब्लू और Birthday Depression के नाम से जाना जाता है। आज इस लेख के जरिए लखनऊ की साइकोलॉजिस्ट डॉ. अंजलि गुप्ता से जानेंगे की आखिर Birthday Blue होता क्या है और कैसे लोग इसका शिकार बन जाते हैं। साथ ही Birthday Blue के लक्षण और इससे बचने के उपायों के बारे में भी जानकारी मिलेगी।

Birthday-Blue

‘Birthday Blue’ क्यों होता है, जाने वजह  

डॉ. अंजलि गुप्ता ने बताया की अगर किसी भी व्यक्ति को अपने जन्मदिवस के दिन किसी भी तरह का कोई उत्साह का अनुभव न हो। यानि बर्थडे की खुशी की जगह मन में बेचैनी, घबराहट जैसे भाव उमड़ रहे हो और मन में एक अलग ही भारीपन महसूस हो तो इस तरह के अनुभवों को ही बर्थडे ब्लू के नाम से जाना जाता है। दरअसल बर्थडे के दिन ऐसे लोग महसूस करते हैं की उनकी जिंदगी का एक साल तो कम हो गया है मगर समाज के मापदंडो के अनुसार वो उस मुकाम तक नहीं पहुंच पाएं जहां आज उन्हें होना चाहिए था। इन विचारों के साथ ही ऐसे लोग खुद को हारा हुआ महसूस करने लगते हैं। जिससे ऐसे लोगों को बेचैनी और घबराहट महसूस होने लगती है। इसके साथ ही यदि जन्मदिन से जुड़ा कोई नकारात्मक अनुभव हो तो भी इस तरह का मानसिक तनाव हो सकता है। कई बार सोशल मीडिया पर दूसरे लोगों का बर्थडे सेलिब्रेशन भी नेगेटिव फीलिंग्स की वजह बनता है।

ये भी पढ़ें- Why We Need More Sleep During the Winter: शरीर को सर्दी में ज्यादा नींद की पड़ती है जरूरत, जाने क्या है इसकी वजह

‘बर्थडे ब्लू’ के लक्षण क्या हैं- Symptoms of Birthday Depression

  • बर्थडे वाला दिन पास आते ही बेचैनी, उदासी और घबराहट महसूस होने लगती है।
  • लोगों द्वारा बर्थडे की बधाई देने पर भी चिड़चिड़ापन और घबराहट का एहसास होता है।
  • ‘बर्थडे ब्लू’ से ग्रसित लोगों को कई बार लगातार सिर दर्द, नींद न आना जैसी समस्याओं का भी सामना करना पड़ता है।
  • कई लोग ‘बर्थडे ब्लू’ पर भूख न लगने की दिक्कत की वजह से कई तरह की शारीरिक बीमारियों का भी शिकार हो जाते हैं।
  • बर्थडे पार्टी के नाम पर गुस्सा आने की फीलिंग का एहसास होना।

Birthday-Blue

‘बर्थडे ब्लू’ से कैसे करें बचाव- Birthday Blues Treatment

बड़े-बड़े प्लान बनाने से बचें 

अक्सर लोग सोशल मीडिया से प्रभावित होकर अपने बर्थडे सेलिब्रेशन के लिए बड़े-बड़े प्लान बना लेते हैं। मगर अगर किसी भी वजह से बर्थडे का प्लान सक्सेसफुल नहीं हो पाता है तो ऐसे लोग एकदम से निराशा का अनुभव करते हैं। इसी वजह से कोशिश करनी चाहिए की बर्थडे को यादगार बनाने के लिए छोटे-छोटे ही प्लान बनाएं। ताकि उन्हें आसानी से पूरा किया जा सके।

पिछले नकारात्मक अनुभव को भूलने की करें कोशिश

अक्सर बर्थडे ब्लू के शिकार वो लोग भी होते हैं जिनके साथ पिछले किसी बर्थडे से जुड़ा कोई नकारात्मक अनुभव जुड़ा होता है। सबसे पहले तो ऐसे किसी भी नकारात्मक अनुभव को भूलने का प्रयास करना चाहिए। जितना जल्दी पुरानी कड़वी यादों से बाहर निकल जाएंगे उतना ही जल्दी आपके मन से बर्थडे से जुड़े बुरे विचार दूर हो जाएंगे। इसके लिए आप किसी अच्छे थेरेपिस्ट की मदद भी ले सकते हैं।

ये भी पढें- Virtual Autism : क्या आपका बच्चा भी मोबाइल देखकर खाता है खाना, यह आदत खतरनाक बीमारी को देती है दावत

अपनी हर तरह की फीलिंग्स को स्वीकार करना सीखें 

हर व्यक्ति के मन में तरह-तरह के विचार उमड़ते हैं। कभी ये विचार पॉजिटिव होते हैं तो कभी ये विचार नेगेटिव होते हैं। अक्सर मानसिक अवसाद से घिरे लोगों के मन में जब भी नेगेटिव फीलिंग्स आती हैं तो ये लोग इन्हें स्वीकारने की जगह इन फीलिंग्स को छुपाना शुरू कर देते हैं। मगर ऐसे करने से परेशानी और भी बढ़ जाती है। इसी वजह से ऐसी किसी भी भावना को दबाने की बजाय उसे स्वीकार कर उससे उबरने का प्रयास करना चाहिए।

योग और मेडिटेशन को लाइफ में शामिल करें

योग और मेडिटेशन को अपनी दिनचर्या में शामिल करके आप किसी भी तरह के मानसिक अवसाद से निजात पा सकते हैं। दरअसल योग और मेडिटेशन एक हीलिंग पॉवर की तरह काम करते हैं। इसी वजह से नियमित किया गया योग आपके मन से हर तरह के नकारात्मक विचारों को बाहर निकालने का काम करता है। इसके साथ ही योग और मेडिटेशन इम्युनिटी को भी बूस्ट करने में मदद करती है।

Birthday-Blue

अपनी प्रगति पर नजर डालें 

अपने जन्मदिन पर बर्थडे डिप्रेशन से बचने के लिए उन लक्ष्यों की लिस्ट बनाएं जो आपने अभी तक पूरी की हैं। इससे आप में आत्मविश्वास पैदा होगा और यह आत्मविश्वास ‘बर्थडे ब्लू’ से राहत दिलाने का काम करेगा। इसके साथ ही अपनी उपलब्धियों पर भी एक नजर डालें यह काम भी ‘बर्थडे ब्लू’ जैसे मेंटल डिसऑर्डर को दूर करने का काम करेगा।

खुद को ज्यादा से ज्यादा व्यस्त रखने का करें प्रयास 

कहते हैं की खाली दिमाग शैतान का घर होता है। इसी वजह से खाली बैठे इंसान के मन में कई तरह के नकरात्मक विचार हिलोरें लेने लगता है। यही वजह है की बर्थडे वाले दिन ज्यादा ऐसे ज्यादा व्यस्त रहने का प्रयास करना चाहिए। इस दिन कुछ ऐसे लोगों से मिलें जिनके साथ वक्त बिताना आपको अच्छा लगता है। इस दिन म्यूजिक या फिल्म देखने का प्लान बना कर भी आप खुद को बिजी रख सकते हैं।

ये भी पढ़ें- Walk Krne Ka Shi Tarika | टहलने का सही तरीका अपनाकर आप खुद को रख सकते हैं फिट और फाइन

ये भी पढ़ें- Diet According to Skin Type | स्किन टाइप के अनुसार डाइट प्लान कर खुद को रखें फिट एंड फाइन  

 

Leave a Comment